Total: $0.00

Since entire world is suffering from COVID-19, we must take care of guidelines by the Govt. of India at their website https://www.ayush.gov.in/ and contribute as well using Govt. of India website https://www.pmcares.gov.in/en/

To donate in PM-Cares, kindly use Govt. of India website : https://www.pmcares.gov.in/en/
Source : ps://www.pmcares.gov.in/en/
Source : https://www.ayush.gov.in/
Source : https://www.ayush.gov.in/
Source : https://www.ayush.gov.in/

21 June 2020 : Solar Eclips

Today the annual solar eclipse will start at 9:15 AM IST and will be visible until 3:04 PM IST. The maximum eclipse will take place at 12:10 IST. The eclipse will be visible from much of Asia, Africa, the Pacific, the Indian Ocean, parts of Europe and Australia

ग्रहण काल में बरतें ये सावधानियां

  1. धार्मिक व ज्योतिषीय दृष्टिकोण से ग्रहण काल बालक, वृद्ध एवं रोगी को छोड़कर अन्य किसी को भोजन नहीं करना चाहिए।
  2. खाद्य पदार्थों में तुलसी दल या कुशा रखनी चाहिए।
  3. गर्भवतियों को खासतौर से सावधानी रखनी चाहिए।
  4. ग्रहणकाल में प्रकृति में कई तरह की अशुद्ध और हानिकारक किरणों का प्रभाव रहता है। इसलिए कई ऐसे कार्य हैं जिन्हें ग्रहण काल के दौरान नहीं किया जाता है।
  5. ग्रहणकाल में स्नान न करें। ग्रहण समाप्ति के बाद स्नान करें।
  6. ग्रहण को खुली आंखों से न देखें।
  7. ग्रहणकाल के दौरान अपने इष्टदेव की आराधना, जप आदि श्रेयकर होगा
  8. ग्रहण के दौरान या पहले भोजन बना हुआ है तो उसे फेंकना नहीं चाहिए। बल्कि उसमें तुलसी के पत्ते डालकर उसे शुद्ध कर लेना चाहिए।

गर्भवती महिलाएं बरतें विशेष सावधानी

ग्रहण के हानिकारक प्रभाव से गर्भ में पल रहे शिशु के शरीर पर उसका नकारात्मक असर होता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के दौरान बाहर नहीं निकलने की सलाह दी जाती है। ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को ग्रहण के सीधे प्रभाव में नहीं आना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X